नई दिल्ली (एजेंसी)। कांग्रेस अध्यक्ष के पद के चुनाव के लिए आज राहुल गांधी पार्टी मुख्यालय पहुंचें जहां उन्होंने कई वरिष्ठ नेताओं की उपस्थिति में नामांकन का पहला सेट दाखिल किया। शीला दीक्षित, मोहसिना किदवई, कमलनाथ, मोतीलाल वोरा, अहमद पटेल, तरूण गोगोई और अशोक गहलोत राहुल गांधी के प्रस्तावक बने।इस दौरान मौजूदा कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह समेत कई वरिष्ठ नेता उनके साथ उपस्थित रहे।

राहुल गांधी के पार्टी अध्यक्ष के पद के लिए पर्चा भरने से पहले मुख्यालय में पार्टी कार्यकर्ताओं का जमावड़ा लग गया है। कांग्रेस अध्यक्ष बनने की कवायद में राहुल इकलौते उम्मीदवार होंगे क्योंकि सोमवार को नामांकन का आखिरी दिन है और किसी ने भी अभी तक कोई पर्चा नहीं भरा है। नये कांग्रेस अध्यक्ष की घोषणा संभवत: 5 दिसंबर को होनी है।

पार्टी सूत्रों ने रविवार को बताया कि राहुल गांधी अपने नामांकन पत्रों के चार सेट जमा करेंगे। नामांकन के अंतिम दिन सोमवार को राहुल गांधी के समर्थन में 75 नामांकन फार्म से अधिक भरे जाने की उम्मीद है। सूत्रों का कहना है कि सोनिया गांधी और मनमोहन सिंह के अलावा राहुल के नामांकन पत्र पर बतौर प्रस्तावक दस्तखत करने वालों में वरिष्ठ पार्टी नेता गुलाम नबी आजाद, एके एंटनी, पी. चिदंबरम, सुशील कुमार शिंदे, अहमद पटेल और इनमें छह मुख्यमंत्री पंजाब के अमरिंदर सिंह, कर्नाटक के सिद्धारमैया, हिमाचल के वीरभद्र, पुडुचेरी के वी.नारायणसामी, मेघालय के मुकुल संगमा और मिजोरम के लाल थंहावला भी मौजूद रहेंगे।

कांग्रेस के केंद्रीय निर्वाचन प्राधिकरण के अध्यक्ष मुल्लापैली रामचंद्रन ने बताया कि सोमवार को नामांकन का आखिरी दिन है लेकिन रविवार तक किसी ने भी अपना नामांकन दाखिल नहीं किया है। हालांकि अब तक राज्य की इकाइयों के प्रतिनिधियों को 90 नामांकन फार्म दिए जा चुके हैं। विभिन्न राज्यों से कांग्रेस के कई प्रतिनिधिमंडल राहुल गांधी के सर्वोच्च पद के लिए अपना समर्थन देने अकबर रोड स्थित पार्टी मुख्यालय में सोमवार की सुबह ही पहुंच गए। कांग्रेस कमेटी के निर्धारित चुनाव कार्यक्रम के अनुसार नामांकन की प्रक्रिया सोमवार को खत्म हो रही है। अगले दिन यानी 5 दिसंबर को स्क्रूटनी के बाद दोपहर 3.30 बजे तक वैध नामांकनों की घोषणा भी कर दी जाएगी। नामांकन वापसी का आखिरी दिन 11 दिसंबर और जरूरत पडऩे पर मतदान 16 दिसंबर को होगा।