नई दिल्ली: टीम इंडिया के क्रिकेटरों की बीवियों और महिला मित्रों के लिए भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड कोई इंतजाम नहीं करेगा। प्रशासकों की समिति (सीओए) ने इस संबंध में बीसीसीआई का भेजा गया प्रस्‍ताव खारिज कर दिया है। बोर्ड ने मांग की थी कि क्रिकेटरों की पत्नियों व गर्लफ्रेंड्स के लिए अलग से एक मैनेजर नियुक्‍त किया जाए।

नहीं माने विनोद राय
एक वेबसाइट की रिपोर्ट के मुताबिक बीसीसीआई ने इस बार के दौरे पर क्रिकेटरों की पत्नियों के लिए अलग से तमाम इंतजाम करने के लिए मयंक पारिख को अधिकारी बनाकर 4 जनवरी को केपटाउन भेजने का बंदोबस्त कर दिया था। लेकिन 3 जनवरी को ऐन वक्त पर सीओए विनोद राय ने बोर्ड की इस योजना को फेल कर दिया। उन्होंने बोर्ड मैनेजमेंट को साफ कर दिया कि इसकी कोई जरूरत नहीं है क्‍योंकि एक अधिकारी ऋषिकेश उपाध्‍याय पहले से ही टीम के साथ मौजूद है।

दक्षिण अफ्रीका के वर्तमान दौरे पर क्रमश: विराट कोहली, रोहित शर्मा, भुवनेश्‍वर कुमार, मुरली विजय, अंजिक्‍य रहाणे और ऋद्धिमान साहा की पत्नियां अनुष्‍का शर्मा, रितिका, नुपुर, निकिता, राधिका और रोमी साथ में गई हैं। उन्हें अपने पतियों के साथ वहां दो सप्‍ताह रहने की इजाजत दी गई है। न्‍यूलैंड्स में जारी पहले टेस्‍ट के बाद यह अवधि खत्‍म हो रही है।