नई दिल्ली आर्मी चीफ जनरल बिपिन रावत ने कहा है कि अरुणाचल प्रदेश के टूटिंग में चीन से रोड बनाने का विवाद सुलझा लिया गया है। उन्होंने साथ ही डोकलाम मुद्दे पर कहा कि चीनी इलाके में सैनिकों की संख्या में भारी कमी आई है।

बता दें कि चीन ने अरुणाचल प्रदेश के सीमावर्ती इलाके टूटिंग में घुसकर करीब एक किलोमीटर सड़क बनाने की कोशिश की थी। अरुणाचल प्रदेश के सियांग क्षेत्र में टूटिंग में भारतीय सुरक्षाकर्मियों ने जब चीनी लोगों को कंस्ट्रक्शन का काम रोकने के लिए कहा, तब चीनियों ने कहा कि हम अपने इलाके में यह काम कर रहे हैं। भारतीय सुरक्षाकर्मियों ने जब सबूत पेश किए तो वे वापस चले गए। चीनी चले तो गए, लेकिन अपने साथ लाई गई खुदाई की दो मशीनें रहस्यमय ढंग से भारतीय इलाके में ही छोड़ गए। भारत ने चीनी पक्ष को संदेश भेजा है कि वे अपनी मशीनें ले जाएं।

आर्मी चीफ ने सोमवार को यहां आर्मी टेक्नॉलजी सेमिनार के दौरान अलग से कहा कि टूटिंग का मामला सुलझा लिया गया है। उसके बाद चीन के साथ बॉर्डर पोस्ट मीटिंग हुई थी। सूत्रों का कहना है कि मीटिंग दो दिन पहले हुई, जिसके बाद चीनी अपनी मशीनें भी वापस ले गए।