राज्यसभा के लिए आम आदमी पार्टी का चौथा उम्मीदवार मैदान में आ गया है. दिल्ली सरकार में पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा ने ट्वीट कर कहा कि शहीद संतोष कोली की मां कलावती कोली शुक्रवार को सुबह 11.30 बजे मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के घर अपने नॉमिनेशन के लिए समर्थन मांगने जाएंगी.

मिश्रा ने अपने ट्वीट में आगे लिखा, ‘कलावती कोली ने आम आदमी पार्टी के सभी विधायकों से समर्थन के लिए अपील की है. कलावती अरविंद केजरीवाल से मिलकर हर विधायक को निजी तौर पर समर्थन के लिए फोन करेगी.’

इससे पहले कपिल मिश्रा ने एक और ट्वीट किया, जिसमें उन्होंने कलावती कोली और सुशील गुप्ता की तस्वीर लगाकर पूछा कि  इनमें किसको राज्यसभा जाना चाहिए? उन्होंने आप की पीएसी और सभी विधायकों से अपील करते हुए कलावती कोली के लिए समर्थन मांगा.

कपिल ने कहा कि कलावती कोली के पास एक सिर्फ एक कमी है, उनके पास पैसा नहीं है.

गुरुवार को एक ट्वीट करते हुए कपिल मिश्रा ने कहा था कि शहीद संतोष कोली की मां को याद रखिये. अरविंद केजरीवाल ने कई सालों तक इनका नमक खाया है.

बता दें कि आम आदमी पार्टी की ओर से केजरीवाल की अगुवाई में पीएसी ने तीन लोगों को राज्यसभा भेजने का फैसला किया है. इनमें आप नेता संजय सिंह, सीए सुशील गुप्ता और एनडी गुप्ता शामिल हैं. हालांकि सुशील गुप्ता का नाम सामने आने के बाद इस पर लगातार विवाद हो रहा है.

आम आदमी पार्टी के गुट की मांग थी कि आप नेता और कवि कुमार विश्वास को राज्यसभा भेजा जाए. लेकिन आप की पीएसी ने उनको टिकट नहीं दिया. इसके बाद से कुमार विश्वास और कपिल मिश्रा जैसे नेताओं ने केजरीवाल के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है.

साल 2013 में आम आदमी पार्टी की नेता संतोष कोली एक सड़क हादसे में घायल हो गई थी. 37 दिनों तक उनका अस्पताल में इलाज चला, लेकिन उन्होंने बचाया नहीं जा सका. 28 वर्ष की अवस्था में गुरुग्राम के एक अस्पताल में उन्होंने आखिरी सांस ली.

नॉर्थ ईस्ट दिल्ली के एक गरीब परिवार में जन्मीं संतोष कोली केजरीवाल के भ्रष्टाचार विरोधी आंदोलन से 2002 से जुड़ी हुई थी. पार्टी ने उन्हें दिल्ली की सीमापुरी विधानसभा सीट से चुनाव लड़ने का टिकट दिया था.