मुंबई: बिटकॉइन के नई ऊंचाई पर पहुंचने से इसको लेकर निवेशकों का आकर्षण बढ़ रहा है. इसी के मद्देनजर भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने जनता को बिटकॉइन के खतरे को लेकर चेतावनी दी है.

केंद्रीय बैंक ने इस बारे में इसके पहेल जारी की गई चेतावनी का ज़िक्र करते हुए कहा कि कई बिटकॉइन के मूल्यांकन में तेजी और इनिशियल कॉइन पेशकशों (आईसीओ) में तेज वृद्धि के मद्देनजर हम अपनी चिंता को फिर दोहराते हैं.

बताते चलें कि एक बिटकॉइन का दाम पिछले सप्ताह 11,000 डॉलर के ऊंचे स्तर पर पहुंच गया है, जिसने सबको हैरान कर दिया था. बिटकॉइन का किसी मौद्रिक प्राधिकरण द्वारा नियमन नहीं होता है. इसका सीधा मतलब है कि ये करेंसी किसी देश या बैंक की तरफ से जारी नहीं की गई है और इसका कोई लीगल टेेंडर नहीं है.

क्या है बिटकॉइन

बिटकॉइन एक प्रकार की डिजीटल करेंसी है. आम बोलचाल की भाषा में इसे इंटरनेट करेंसी भी कहा जाता है. इसको हम अपने घर या अपने जेब में नहीं रख सकते क्योंकि ये किसी तरह का नोट या कोई कॉइन नहीं है. इसे आप सिर्फ ऑनलाइन ही इस्तेमाल कर सकते हैं.