इंटरनेशनल डेस्क: हाइड्रोजन बम बनाने के बाद अब नॉर्थ कोरिया नया मिसाइल टेस्ट कर सकता है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक जापान को कुछ रेडियो सिग्‍नल प्राप्‍त हुए हैं जो उत्‍तर कोरिया द्वारा एक और बैलिस्टिक मिसाइल परीक्षण की संभावना की पुष्टि कर रहे हैं। हालांकि ये सिग्‍नल आम नहीं हैं और सैटेलाइट इमेज से किसी नई गतिविधि का पता नहीं चल रहा है। इससे पहले भी जापान के ऊपर से नॉर्थ कोरिया मिसाइल टेस्ट कर चुका है। जिसे लेकर वहां के लोगों में डर भी है।

अंतर्राष्ट्रीय समुदाय चिंतित
उत्तर कोरिया ने अपने न्यूक्लियर मिसाइल प्रोग्राम के जरिए अंतर्राष्ट्रीय समुदाय को चिंतित कर दिया है लेकिन उसने 15 सितंबर के बाद से अब तक कोई परीक्षण नहीं किया है। हालांकि दक्षिण कोरियाई न्यूज एजेंसी योनहप ने सरकारी सूत्रों के हवाले से खबर दी है कि सोमवार को मिसाइल-ट्रेसिंग रडार को एक अनजान सी जगह पर चालू किया गया था। जो सिग्नल सोमवार को पता लगे, हाल के दिनों में वैसे सिग्नल कई बार मिले हैं।

अंतर्राष्ट्रीय समुदाय कर चुका है उत्तर कोरिया पर प्रतिबंध की मांग 
वहीं दक्षिण कोरियाई रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ने इस रिपोर्ट पर किसी भी तरह का बयान देने से इनकार कर दिय। जापान की क्योदो न्यूज एजेंसी ने सूत्रों के हवाले से बताया कि जापानी सरकार को ऐसे सिग्नल मिले हैं जिससे यह संकेत मिलते हैं कि उत्तर कोरिया अगले मिसाइल लॉन्च की तैयारी कर रहा है, इसके बाद से सरकार अलर्ट पर है। इसी साल सितंबर में उत्तर कोरिया ने अपने छठे और सबसे शक्तिशाली न्यूक्लियर बम का परीक्षण किया था और जापान के ऊपर से मिसाइल दागी थी। इसके बाद से ही अमेरिका, जापान, दक्षिण कोरिया सहित अंतर्राष्ट्रीय समुदाय ने उत्तर कोरिया पर प्रतिबंधों की मांग की थी।