मुंबई | भारत के सबसे अमीर शख्स मुकेश अंबानी ने शनिवार को अपने फर्म रिलायंस इंडस्ट्रीज को दुनिया की टॉप 20 कंपनियों में शामिल करने को लेकर अपने विजन को रेखांकित किया। उन्होंने कंपनी को क्लीन एनर्जी का लीडर बनाने की भी इच्छा जाहिर की। अंबानी रिलायंस इंडस्ट्रीज के 40 साल पूरे होने और समूह के संस्थापक धीरूभाई अंबानी की जन्म शताब्दी के उपलक्ष्य में आयोजित कार्यक्रम में बोल रहे थे।

RIL के चेयरमैन ने कहा,’मैं आज जो भी हूं….केवल रिलायंस की वजह से हूं। क्या रिलायंस दुनिया की टॉप 20 कंपनियों में शामिल हो सकता है? हां हम कर सकते हैं….और हां हम करेंगे। आने वाले दशकों में दुनिया जीवाश्म ईंधन से क्लीन एनर्जी की ओर बढ़ेगी। क्या रिलायंस क्लीन एनर्जी प्रोवाइडर्स का लीडर बन सकता है? हां हम कर सकते हैं और हां हम करेंगे।’ बता दें फोर्ब्स की ताजा रैंकिंग के मुताबिक रिलायंस दुनिया की बड़ी कंपनियों की सूची में 106 नंबर पर है।

अंबानी ने कहा कि दुनिया नए पदार्थों की खोज करेगी जो मैन्यूफैक्चरिंग और लोगों के जीवन में क्रांतिकारी बदलाव लाएंगे। उन्होंने आगे कहा,’क्या रिलायंस इन नई वस्तुओं की खोज में वैश्विक उत्पादकों का नेतृत्व कर सकता है? हां हम कर सकते हैं और हम करेंगे।’ अंबानी ने जियो का भी जिक्र किया और कहा, ‘जियो और रिटेल के साथ रिलायंस ने भारत में नई नेतृत्वकारी स्थिति बनाई है और हम ग्राहकों के लिए समर्पित है।

उन्होंने कहा, ‘हम स्वर्णिम दशक में प्रवेश कर रहे हैं। रिलायंस उस खास स्थिति में है जिसके बारे में दुनिया की कुछ ही कंपनियां सपना देख सकती हैं।’ उन्होंने कहा कि उन्होंने अपने पिता से सबसे महत्वपूर्ण पाठ ‘साहस’ का पढ़ा है। इसके बिना कोई कुछ भी हासिल नहीं कर सकता है।