उत्तर प्रदेश के निकाय चुनाव में मिली जीत को बीजेपी गुजरात में भुनाने की कोशिश में जुटी है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी चुनावी रैलियों में निकाय चुनाव के नजीतों का जिक्र कर कांग्रेस पर निशाना साध चुके हैं. अब इस कड़ी में यूपी में जीतकर आए बीजेपी के 14 मेयर गुजरात में भी पार्टी के लिए प्रचार करने उतर रहे हैं.

खास बात ये है कि राहुल के गढ़ अमेठी में बीजेपी का झंडा उठाने वाले नवनिर्वाचित नगर पंचायत अध्यक्ष चंद्रमा देवी और जायस नगर पालिका के अध्यक्ष महेश प्रताप को भी मेयर के बराबर अहमियत दी गई है. वह भी पीएम के साथ होने वाली बैठक में शामिल होंगे. हालांकि कांग्रेस ने अमेठी नगर पंचायत अध्यक्ष पद के लिये अपना प्रत्याशी नहीं खड़ा किया था, लेकिन वहां बीजेपी की जीत को कांग्रेस सांसद राहुल गांधी के लिये बड़ा झटका माना जा रहा है. कांग्रेस को जायस और गौरीगंज नगर पालिका अध्यक्ष पद के चुनाव में पराजय का सामना करना पड़ा.

दिल्ली में आज यूपी नगर निगम चुनाव जीतने वाले 14 मेयर प्रधानमंत्री मोदी से मुलाकात करेंगे. सीएम योगी की अगुवाई में होने वाली यह मुलाकात के पीएम आवास पर होनी है. इसके लिए तैयारियां पूरी कर ली गईं हैं और सीएम योगी बीती शाम से ही दिल्ली में डेरा जमाए हुए हैं. कार्यक्रम के मुताबिक इस बैठक में पीएम मोदी और सभी मेयर बैठकर चाय पर चर्चा करेंगे और 2109 के आम चुनाव और गुजरात में बीजेपी की रणनीति पर भी चर्चा हो सकती है.

पहली परीक्षा में योगी पास

योगी आदित्यानाथ की अगुवाई में यूपी निकाय चुनाव में जीतकर आए मेयर 12 दिसंबर को दूसरे और अंतिम चरण के प्रचार के लिए अहमदाबाद भी जाएंगे. जहां उनका अभिनंदन समारोह आयोजित किया जाएगा. उत्तर प्रदेश के नगरीय निकाय चुनाव में बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है. पिछले लोकसभा और विधानसभा चुनाव में जोरदार कामयाबी के बाद निकाय चुनाव में जीत को बीजेपी की कामयाबी की हैट्रिक के तौर पर देखा जा रहा है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नगरीय निकाय चुनाव परिणामों को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की नीतियों का नतीजा करार दिया था.

आपको बता दें कि बीजेपी ने निकाय चुनाव में अयोध्या, वाराणसी और गोरखपुर जैसी प्रतिष्ठित सीटों के साथ 16 में से 14 नगर निगमों में महापौर पद पर कब्जा किया है. पहली बार अपने चुनाव चिन्ह के साथ मैदान में उतरी बीएसपी ने अलीगढ़ और मेरठ के महापौर का चुनाव जीता है.