देश की नामी एविएशन कंपनी जेट एयरवेज ने अपने कर्मचारियों की सैलरी घटाने का फैसला लिया है. कंपनी कर्मचारियों की सैलरी में करीब 25 फीसदी तक की कटौती करने वाली है. मैनेजमेंट ने कर्मचारियों के इस बारे में बता दिया है. 12 लाख रुपये तक सालाना पैकेज पर 5 फीसदी सैलरी कटौती होगी. वहीं, 1 करोड़ से अधिक पैकेज पर 25 फीसदी तक सैलरी कटौती है. हालांकि, पायलटों की सैलरी में करीब 17 फीसदी कम होगी. क्यों उठाया ये कदम-इस कॉस्ट कटिंग के तहत सीईओ से मैनेजर सबकी सैलरी कटेगी. महंगे फ्यूल और कमजोर रुपये ने कंपनी की परेशानी बढ़ा दी है. ऑपरेशनल कॉस्ट बढ़ने के कारण कॉस्ट कटिंग की जा रही है. कंपनी को होगी 500 करोड़ की बचत-जेट एयरवेज सैलरी पर सालाना लगभग 3000 करोड़ रुपये खर्च करती है. इस कॉस्ट कटिंग से कंपनी को 500 करोड़ की बचत होगी