दिल्‍ली l आम आदमी पार्टी के संयोजक और मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा देने को ही सभी समस्याओं का हल बताते हुए अगले लोकसभा चुनाव में दिल्ली की जनता से आप को वोट देने की अपील की है. केजरीवाल ने रविवार को इस मांग पर पार्टी द्वारा आयोजित महासम्मेलन में कहा, ‘दिल्ली में चुनी हुई सरकार के बावजूद उपराज्यपाल का शासन चलता है. इसकी वजह से सरकार चाहकर भी कोई काम नहीं कर पाती है.’ केजरीवाल ने एनडीएमसी इलाकों को छोड़ कर शेष दिल्ली की शासन शक्तियां दिल्ली सरकार को देने की वकालत की.

केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली पहले मुगलों के अधीन थी, उसके बाद अंग्रेज शासन करने आए और अब उपराज्यपाल के अधीन है. उन्होंने उपराज्यपाल पर निशाना साधते हुए कहा कि सभी राज्यों में लोग अपनी सरकार चुनते हैं, लेकिन दिल्ली में उल्टा है. लोग वोट तो डालते हैं लेकिन उनका कोई काम नहीं होता.

सीएम ने कहा, ‘दिल्ली में चार महीने से आईएएस अधिकारियों ने हड़ताल कर रखी थी. हम उपराज्यपाल से मिलने गए लेकिन वे नहीं मिले. यदि पूर्ण राज्य होता तो वह मिलने से मना नहीं कर सकते थे. उपराज्यपाल ने दिल्ली के लोगों का अपमान किया है जिसका बदला दिल्ली के लोग 2019 के चुनाव में लेंगे.’

इससे पहले पार्टी की दिल्ली इकाई के प्रभारी गोपाल राय ने कहा कि पार्टी सोमवार से दिल्ली के पूर्ण राज्य के लिए अभियान चलाएगी. इसके लिए सभी विधानसभा कार्यालय पर दो जुलाई को बैठक बुलाई गई है. तीन जुलाई को सभी मतदान केन्द्र और वार्डों में तीन हजार आंदोलन केन्द्र खुलेंगे. उन्हीं केन्द्रों से इस आंदोलन का संचालन होगा.

उन्होंने कहा कि कार्यकर्ता टोली बनाकर घर-घर जाकर लोगों से हस्ताक्षर करवाएंगे. इसके साथ ही केजरीवाल की चिठ्ठी लोगों तक पहुंचाएगे. दस लाख फार्म इकट्ठा होने के बाद इसे प्रधानमंत्री तक पहुंचाया जाएगा. आम आदमी पार्टी ने दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा देने के मुद्दे पर जनसमर्थन के लिए टोल फ्री नम्बर जारी किया है.