इंदौर l डायफ्रूट्स में सबसे ज्यादा फायदेमंद बादाम है। इसमें फाइबर 3.5gm, प्रोटीन 6gm, फैट 14gm, विटामिन E 37%, मेग्निशियम 20% होता है। इन सबके अलावा इसमें कॉपर विटमिन B2 एंव फास्फोरस भी होता है। इसमें 1061 कैलोरी और 2.5 कार्बोहाइड्रेड भी होता है। भीगे हुए बादाम खाने वाले लोगों की उम्र न खाने वालों से ज्यादा होती है। रोज पांच बादाम खाने से फायदा होता है। लेकिन जो लोग ज्यादा बादाम खाते हैं, उन्हें कई बार इसे खाने से पेट में दर्द भी हो सकता है। इसलिए इसे सीमित मात्रा में ही खाएं।

भीगी हुई बादाम ही क्यों खाएं?

बादाम के छिलकों में टैनिन होता है जो इसके न्यूट्रिएंट्स को बॉडी में अब्जॉर्ब होने से रोकता है। भिगोने से बादाम का छिलका आसानी से निकल जाता है और इसके न्यूट्रिएंट्स बॉडी को बेहतर तरीके से मिल पाते हैं। इसलिए डाइट एक्सपर्ट भीगी हुई बादाम खाने की सलाह देते हैं।

एक स्टडी के मुताबिक जो व्यक्ति हफ्ते में 5 दिन बादाम खाता है उसको हार्ट अटैक आने के चांजेस 50 प्रतिशत तक कम हो जाते हैं। ये कॉलेस्ट्रॉल को कम करता है। बादाम खाकर कॉलेस्ट्रॉल लेवल को कंट्रोल कर सकते हैं।

बादाम में फास्फोरस होता है जो हड्‌डी एंव दातों को मजबूत करता है।

बादम को रेग्यूलर लेने से डायबिटीज कंट्रोल में रहती है और इन्सुलिन की जरूरत नहीं पड़ती।

भीगे हुए बादाम खाने से दिमाग और याद्दाश्त तेज होती है। दिमाग का काम करने वाले लोगों को बादाम जरूर खाना चाहिए।

बादाम स्किन को अच्छा रखने के साथ ही टेनिंग को भी दूर करता है। आप रंगत को निखारना चाहते हैं तो रोज बादाम खाएं।

जिन लोगों को पेट की प्रॉब्लम होती हैं। उन्हें बादाम जरूर खाना चाहिए। सुबह-सुबह 2 बादाम खाने पेट की बीमारियां दूर रहती हैं।

सन्नी जादम की रिपोर्ट