हेल्थ: आज के समय में हर किसी की भागदौड़ भरी लाइफ होती है। किसी के पास इतना समय नहीं होता है कि खुद पर जरा सा भी ध्यान दे पाएं। खराब लाइफस्टाइल  और दिनचर्या के कारण कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है। कई लोगों की आदत होती है कि रात को देर तक जगते रहते हैं। अगर आप भी देर रात तक जगते है तो आपको यह खबर परेशान कर सकती है। जी हां एक शोध के अनुसार रात को देर से सोने से आपकी मौत हो सकती है। इसके अलावा उन्हें सांस संबंधी कई समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

इस नए अध्ययन के अनुसार रात को उल्लूओं की तरह जगना आपके लिए भारी पड़ सकता है। शरीर की थकान उतारने के लिए हमें पर्याप्त नींद लेना जरुरी है, लेकिन आज के समय में काम से फ्री होकर स्मार्ट फोन में लगे रहते है। जिसके कारण हमारी नींद गायब रहती है। अगर आपके साथ भी ऐसा ही है तो जान लें कि आप ‘सोशल जेट लैग’ के शिकार हैं। ‘सोशल जेट लैग’ हफ़्ते के दिनों के मुकाबले छुट्टी के दिन में आपकी नींद का अंतर है, जब हमारे पास देर से सोने और देर से उठने की ‘सहूलियत’ होती है।

सोशल जेट लैग जितना ज़्यादा होगा, सेहत की दिक्कतें उतनी ज़्यादा होंगी। इससे दिल की बीमारी और मेटाबॉलिक परेशानियां हो सकती हैं। म्यूनिख की लुडविग-मैक्समिलन यूनिवर्सिटी में  क्रोनोबायोलॉजी के प्रोफेसर टिल रोएनबर्ग के मुताबिक, “यही वो चीज है जिसके आधार पर ऐसे अध्ययन सुबह देर से उठने वालों के लिए सेहत से जुड़े खतरे ज़्यादा बताते हैं।”

स्लीप एंड सर्कैडियन न्यूरोसाइंस इंस्टीट्यूट और नफील्ड लेबोरेट्री ऑफ आप्थलमोलॉजी के प्रमुख रसेल फोस्टर कहते हैं कि अगर आप सुबह जल्दी उठने वालों से देर रात तक काम करवाएं तो उन्हें भी स्वास्थ्य की दिक़्कतें होंगी।