नई दिल्ली: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी संसद में शुक्रवार को अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में बोलते हुए अचानक पीएम मोदी के करीब चले गये और उन्होंने पीएम मोदी से हाथ मिलाया और उनसे गले मिले. वहीं, सुप्रीम कोर्ट ने तमिल भाषा में नीट (Neet 2018) की परीक्षा देने वाले स्‍टूडेंट्स को 196 नंबर के ग्रेस मार्क्‍स देने के मद्रास हाईकोर्ट की मदुरै बेंच के आदेश पर शुक्रवार को रोक लगा दी. इधर, अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा की शुरुआत TDP सांसद जयदेव गाला ने की. इस चर्चा के दौरान TDP सांसद ने सत्‍तारूढ़ बीजेपी के साथ कांग्रेस पर भी निशाना साधा. उधर, शिरोमणि अकाली दल की नेता हरसिमरत कौर बादल ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को गले लगाए जाने पर कहा, “यह संसद है, ‘मुन्नाभाई’ का ‘पप्पी-झप्पी एरिया’ नहीं है.’ वहीं, रणबीर कपूर की फिल्म ‘संजू’ की कमाई का सिलसिला लगातार नए रिकॉर्ड कायम कर रहा है.

6p2hls68

संसद में मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में बोलते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर एक-एक कर कई सारे आरोप लगाएं और सरकार को कटघरे में खड़ा किया. मगर एक वक्त ऐसा भी आया, जब सदन का माहौल हैरान करने वाला था. आज सदन में राहुल गांधी ने कुछ ऐसा किया, उस क्षण को जिसने देखा, उसके जहन में वह पल कैद हो गया. दरअसल, राहुल गांधी अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में बोलते हुए अचानक पीएम मोदी के करीब चले गये और उन्होंने पीएम मोदी से हाथ मिलाया और उनसे गले मिले.

oecktf

प्रीम कोर्ट ने तमिल भाषा में नीट (Neet 2018) की परीक्षा देने वाले स्‍टूडेंट्स को 196 नंबर के ग्रेस मार्क्‍स देने के मद्रास हाईकोर्ट की मदुरै बेंच के आदेश पर शुक्रवार को रोक लगा दी. कोर्ट ने सुनवाई के दौरान साफ किया कि हाईकोर्ट इस तरह ग्रेस अंक नहीं दे सकता क्‍योंकि इससे दूसरे स्‍टूडेंट्स को नुकसान होगा. न्यायमूर्ति एस ए बोबडे और न्यायमूर्ति एल नागेश्वर राव की पीठ ने CBSE की याचिका पर हाईकोर्ट के आदेश पर रोक लगाने के साथ ही नोटिस जारी किया.

ibs6q688

019 लोकसभा चुनाव से पहले आज मोदी सरकार के खिलाफ़ पहले अविश्वास प्रस्ताव पर लोकसभा में चर्चा चल रही है. इस चर्चा की शुरुआत TDP सांसद जयदेव गाला ने की. इस चर्चा के दौरान TDP सांसद ने सत्‍तारूढ़ बीजेपी के साथ कांग्रेस पर भी निशाना साधा. उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस और BJP ने आंध्र प्रदेश को अपाहिज बना दिया. BJP ने आंध्र प्रदेश को बांटने के उस बिल का समर्थन किया, जो अवैज्ञानिक तरीके से तैयार किया गया था. उन्‍होंने कहा कि मोदी-शाह के राज में आंध्र प्रदेश की कहानी सिर्फ खोखले वादों की कहानी है और  यह अविश्वास प्रस्ताव मैजॉरिटी और मोरैलिटी (बहुमत तथा नैतिकता) के बीच लड़ाई है.

hb95fiio

सद में मॉनसून सत्र में मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में बोलते हुए राहुल गांधी ने पीएम मोदी को गले लगाया. राहुल ने भाषण खत्म करने से पहले पीएम मोदी गले लगाया और हाथ मिलाया. मगर अब इस पर अलग-अलग लोगों की प्रतिक्रिया आने लगी है. मोदी सरकार में मंत्री और शिरोमणि अकाली दल की नेता हरसिमरत कौर बादल ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को गले लगाए जाने पर कहा, “यह संसद है, ‘मुन्नाभाई’ का ‘पप्पी-झप्पी एरिया’ नहीं है…’