कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राफेल लड़ाकू विमान सौदे को लेकर एक बार फिर प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना साधा है। उन्होंने पीएम मोदी पर आरोप लगाते हुए कहा कि भारत ने अब तक कुल 4 रक्षा मंत्री देखे हैं, लेकिन फ्रांस से हुई राफेल डील के बारे में कोई नहीं जानता। इस डील के बारे में सिर्फ प्रधानमंत्री मोदी ही जानते हैं, क्योंकि उन्होंने राफेल लड़ाकू विमान सौदे को लेकर फ्रांस से खुद बातचीत की थी।

उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा ‘2014 से अब तक भारत में 4 रक्षा मंत्री रहे। ऐसा इसलिए हुआ कि क्योंकि इससे पीएम मोदी को व्यक्तिगत रूप से फ्रांस से डील करने का मौका मिल गया। लेकिन फिर भी वह बोलेंगे नहीं।’

बता दें कि राफेल डील को लेकर इस वक्त भाजपा और कांग्रेस में तीखी नोंकझोंक चल रही है। कांग्रेस ने इस डील को लेकर प्रधानमंत्री मोदी और रक्षा मंत्री पर सदन को गुमराह करने का आरोप लगाया है। कांग्रेस ने रक्षा मंत्री के लोकसभा में दिए बयान को झूठा करार देते हुए कहा है कि उन्होंने न केवल सांसदों से झूठ बोला बल्कि पूरे देश को भी गुमराह किया। रक्षा मंत्री ने दावा किया था कि 2008 को दोनों देशों के बीच हुए गोपनीय समझौते के चलते राफेल की कमर्शियल कीमतों का खुलासा नहीं किया जा सकता।

कांग्रेस ने इस मुद्दे को लेकर प्रधानमंत्री मोदी और रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमन के खिलाफ लोकसभा में विशेषाधिकार हनन का नोटिस दिया है। इससे पहले भाजपा के 4 सांसदों ने भी लोकसभा में राहुल के खिलाफ विशेषाधिकार हनन का नोटिस जारी किया था।

Since 2014, India has had 4 revolving Raksha Mantris.

Now we know why. It gave the PM space to personally re-negotiate RAFALE with the French.

India has had 4 “RAFALE Mantris”. But, none of them know what really transpired in France. Except the PM.

But he won’t speak! pic.twitter.com/exNkm9mn8T— Rahul Gandhi (@RahulGandhi) July 24, 2018