बर्मिंगम
भारतीय कप्तान विराट कोहली का इंग्लैंड के खिलाफ पहले क्रिकेट टेस्ट के पहले दिन मेजबान टीम के कैप्टन जो रूट के आउट होने के बाद बुधवार को मनाया गया जश्न सुर्खियां बना। रूट बड़ी पारी की ओर बढ़ रहे थे, लेकिन कैप्टन कोहली के सटीक निशाने का शिकार बनकर 80 रन बनाने के बाद रन आउट हुए।

ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन की गेंद पर रूट दूसरा रन चुराने के लिए दौड़े, लेकिन कोहली ने तेजी से दौड़ लगाते हुए गेंद उठाई और तुरंत वापस फेंकते हुए गेंदबाजी छोर पर सटीक निशाने पर इंग्लैंड के कप्तान को रन आउट कर दिया। कोहली ने इसके बाद ‘माइक ड्रॉप’ अंदाज में रूट के आउट होने का जश्न मनाया जैसा इंग्लैंड के कप्तान ने पिछले महीने भारत पर वनडे सीरीज में इंग्लैंड को 2-1 की जीत दिलाने के बाद किया था।

बता दें कि वनडे मुकाबले के दौरान जो रूट ने शतक लगाने के बाद बल्ला ड्रॉप करके जश्न मनाया था। हालांकि इसके बाद जो रूट ने माफी मांग ली थी। रूट का यह अंदाज उनके ही देश के सीनियर खिलाड़ियों को भी नागवार गुजरा था। वनडे कप्तान इयोन मॉर्गन ने मीडिया के सामने रूट के गलत कहा था। इस मामले के बाद स्टुअर्ट ब्रॉड ने एंड्रू फ्लिंटॉफ की शर्ट लहराने वाली तस्वीर शेयर करते हुए ट्वीट किया था- रूट का शर्ट उतारकर मैदान का चक्कर लगाने के बजाए बल्ला गिराना अच्छा लगा हो, तो री-ट्वीट करिए।

फ्लिंटॉफ ने मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेले गए वनडे में भारत को हराने के बाद मैदान में शर्ट उतार कर लहराई थी। इसके जवाब में पूर्व कप्तान सौरभ गांगुली ने जुलाई 2002 में नैटवेस्ट सीरीज के फाइनल इंग्लैंड को हराने के बाद लॉर्ड्स की बालकनी से अपनी शर्ट लहराई थी। हालांकि बाद में इस मामले में उन्होंने खुद का शर्मिंदा बताया था।