पवित्र अष्टान्हिका पर्व के अवसर पर चंदेरी के अतिशय तीर्थ स्थल खंदार गिरि क्षेत्र पर दिल्ली से पधारे लगभग 45 लोगों द्वारा श्री 1008 सिद्ध चक्र महामंडल विधान का आयोजन किया जा रहा है। 20 जुलाई से प्रारम्भ हुए इस महा विधान का आयोजन यज्ञनायक सुखमाल चंद जैन, जगदीश चंद्र जैन, अमर चंद जैन निवासी दिल्ली द्वारा कराया जा रहा है। अशोक नगर मूल के दिल्ली निवासी पं. अजित शास्त्री जी के निर्देशन में बड़ी संख्या में दिल्ली से पधारे श्रद्धालु और स्थानीय जैन धर्मावलंबी पुन्यार्जन कर रहे हैं। आयोजकों द्वारा सभी धर्म प्रेमियों के लिए भोजन व्यवस्था भी की गई है।प्रति दिन प्रातः 7 बजे से जिनाभिषेक पूजन विधान के साथ संध्या काल में आरती और शंका समाधान कार्यक्रम लोगों को आकर्षित कर रहे हैं। आगामी 28 जुलाई शनिवार को विधान के समापन पर हवन विधि का संस्कार होगा। आयोजकों ने सभी धर्मानुरागियों से पुन्यार्जन करने का अनुरोध किया है।