शाओमी ने भारत में मी क्रेडिट को लॉन्च किया है। यह युवाओं के लिए इंस्टेंट पर्सनल लोन प्लेटफॉर्म है। इस चीनी कंपनी का कहना है कि मी क्रेडिट यूज़र के लिए कर्ज लेने के प्लेटफॉर्म के तौर पर काम करेगा। कंपनी ने Mi Credit के लोन प्रोवाइडर के बारे में जानकारी दी है। यूज़र अब प्लेटफॉर्म पर लॉग ऑन करने के बाद तेज़ी से लोन के लिए अप्लाई कर सकते हैं। Xiaomi ने अपनी मी क्रेडिट सेवा के लिए इंस्टेंट पर्सनल लोन प्लेटफॉर्म क्रिडेटबी के साथ साझेदारी की है। Mi Credit, भारत में कंपनी की तीसरी वैल्यू-एडेड इंटरनेट सेवा है। इससे पहले मई महीने में ही Mi Music और Mi Video को भी लॉन्च किया गया था।

Xiaomi का Mi Credit प्लेटफॉर्म सिर्फ मीयूआई यूज़र के लिए है। युवा प्रोफेशनल को KreditBee की ओर से 1,000 से लेकर 1,00,000 रुपये तक का पर्सनल लोन मिल सकता है। Xiaomi ने जानकारी दी है कि लोन देने की प्रक्रिया मात्र 10 मिनट में शुरू हो सकती है जो केवाईसी वैरिफिकेशन के ज़रिए संभव होगा। सारे वैरिफिकेशन और यूज़र के निजी ब्योरे पार्टनर प्लेटफॉर्म पर जमा होंगे। मी क्रेडिट की वेबसाइट पर सिर्फ एजेंट के नाम मौज़ूद होंगे। जैसा कि हमने आपको पहले ही बताया, शाओमी की यह सेवा सिर्फ मीयूआई यूज़र के लिए है। यह Xiaomi Mi A1 जैसे स्टॉक एंड्रॉयड फोन के लिए नहीं उपलब्ध होगा।

नई सेवा के बारे में शाओमी इंडिया के प्रमुख मनु जैन ने कहा, “मी क्रेडिट के ज़रिए हम भारत में एक और इंटरनेट संबंधित की सेवा की शुरुआत कर रहे हैं। हमें भरोसा है कि हमारे यूज़र इस सेवा का फायदा उठा पाएंगे।”

पर्सनल लोन क्षेत्र में कंपनी का फैसला यही इशारा करता है कि वह अपने प्लेटफॉर्म से प्रोडक्ट की सेल को और बढ़ाना चाहती है। स्मार्टफोन मार्केट शेयर में जबरदस्त बढ़त हासिल करने के बाद Xiaomi ऑनलाइन मार्केट की सफलता को ऑफलाइन मार्केट में भी दोहराना चाहती है।