काराकासःलाइव टीवी भाषण के दौरान वेनेजुएला के राष्ट्रपति निकोलस मादुरो पर ड्रोन हमले का समाचार है  ।  जानकारी के अनुसार हमले में मादुरो बाल-बाल बच गए जबकि 7 जवान घायल हो गए। बताया जा रहा है कि शनिवार को लाइव टीवी भाषण के दौरान विस्फोटक भरे ड्रोन से मादुरो पर हमला किया गया। हमले के बाद हर तरफ अफरा-तफरी मच गई। वहीं, घटनास्थल पर आग लगने के कारण दमकलकर्मियों को बुलाना पड़ा। ड्रोन हमले की पुष्टि करते हुए वेनेजुएला के सूचना मंत्री जॉर्ज रोड्रिग्ज ने बताया, ‘मादुरो को निशाना बनाते हुए ड्रोन से हमला किया गया।

हमला उस वक्त हुआ जब मादुरो राजधानी कराकस में सैंकड़ो सिपाहियों को संबोधित कर रहे थे। हालांकि राष्ट्रपति को कोई नुकसान नहीं पहुंचा है।’ड्रोन हमले का एक वीडिया भी सामने आया है। जिसमें मादुरो भाषण देते दिखाए दे रहे हैं। तभी अचानक कुछ धमाके की आवाज सुनाई देती है और वहां मौजूद राष्ट्रपति समेत कई अधिकारी आसमान की ओर देखने लगते हैं। बताया जा रहा है कि ये धमाका शनिवार शाम करीब 5:41 (स्थानीय समयानुसार) हुआ। जांच से पता चला है कि विस्फोटक को ड्रोन से बांधकर यह हमला किया गया।

उल्लेखनीय है कि बीते मई में ही वेनेजुएला में राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव हुआ था, जिसमें निकोलस मादुरो ने जीत हासिल की थी। हालांकि मादुरो पर चुनाव में धांधली करने का भी आरोप लगाया था।इस बीच राष्ट्रपति मादुरो ने हमले के पीछे विदेश ताकतों का हाथ होने की बात कही हैं। उन्होंने कहा, ‘ मुझे जान से मारने की कोशिश की गई।’ उन्होंने आरोप लगाया कि इस हमले में को‍लंबिया के कुछ गुटों का हाथ है। साथ ही, कोलंबियाई राष्ट्रपति जुआन मैनुअल सैंटोस पर भी कई गंभीर आरोप लगाए।

सोशल मीडिया पर पोस्ट एक बयान के मुताबिक, रहस्यमय विद्रोही समूह ने राष्ट्रपति निकोलस मादुरो पर हुए ड्रोन हमले की जिम्मेदारी ली है। इस समूह ने कहा, ‘यह हमला मिलिट्री सम्मान के विरोध में था, जो उस शख्स को दिया गया, जो संविधान भूल चुका है। जिन्होंने अमीर बनने के लिए सार्वजनिक कार्यालय को गंदा कर दिया है।’